शाम की आँखों में

शाम की धूप के गीत अलग
उसके  नगमे  उसके सुर ताल अलग
सारे दिन की शिकन ओढ़े फिरती है
जाने कितने अरमान छुपाये फिरती है
उसके कदमों के  जज़्बात अलग
उसकी धडकनों की तड़प कुछ अलग
जाते जाते जाने क्या क्या कह जाना चाहती है यह
कहते कहते कितना छुपा जाती है यह
शाम की धूप  की मुस्कान देखो
उसकी चूड़ियों की खनक ही अलग
उसकी पायल की छम छम भी अलग
कभी बिन बोले रूठ कर छुप जाती है
कभी जाते जाते फिर लौट आती है
इसके  झूलों की पींगे कुछ अलग
इसके मेलो की हलचल कुछ अलग
जाने किस के इंतज़ार में खोई रहती है
कभी लगता है इसे जाने का गम है
कभी जैसे चाँद के आने की राह तकती
इसकी बेसब्री अलग
इसके  मन का धीर अलग
शाम के धुप  में हज़ारो मोती
हर मोती कितने अरमान लिए
कितने सपने करवट करवट
कभी बेबाक कभी शरमाती हुई
हर किरण एक एक ज़िंदगानी जैसी
हर एक किरण कुछ तेरे जैसी
हर एक किरण कुछ मेरे  जैसी
Advertisements

13 responses

  1. शाम की धूप की मुस्कान है अलग,
    हर एक किरण कुछ तेरे जैसी
    हर एक किरण कुछ मेरे जैसी
    बहुत ही सुंदर। बधाई स्वीकारें…

  2. उसकी कदमो के जज़्बात अलग
    उसकी धडकनों की तड़प कुछ अलग…. beautiful!

  3. Sham ki dhup ka bahut pyara varnan kiya hai,ek meethi si kavita.

  4. आपको नव वर्ष 2012 की हार्दिक शुभ कामनाएँ।
    —————————————————————
    कल 03/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    1. Sangeeta ji dhanyawaad aaj hi aap ka blog dekha bahut hi sundar
      aap jaise suljhe hue lekhak jab protsahit karte hai to bahut achha lagta hai

  5. उसकी चूड़ियों की खनक ही अलग
    उसकी पायल की छम छम भी अलग
    कभी बिन बोले रूठ कर छुप जाती है
    कभी जाते जाते फिर लौट आती है
    इसके झूलों की पींगे कुछ अलग
    badhai chhavi ji bahut hi sundar prastuti….abhar.

    1. Naveen ji thanks a ton kuch shaamey apne saath shabdo ko gungunati hai bas unhi kuch shabdo ko kaid karne ki koshish ki

  6. कितने सपने करवट करवट
    कभी बेबाक कभी शरमाती हुई
    हर किरण एक एक ज़िंदगानी जैसी
    हर एक किरण कुछ तेरे जैसी
    हर एक किरण कुछ मेरे जैसी
    khoobsoorat…

शब्दों की झप्पी

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: